[delhi-ncr] - ट्रांसजेडरों को मुख्यधारा में शामिल करने के आयोग के प्रयास को झटका

  |   Delhi-Ncrnews

ट्रांसजेंडरों को मुख्यधारा में शामिल करने चुनाव आयोग के प्रयास को झटका लगा है। ट्रांसजेंडर कम्युनिटी की मशहूर हस्ती विशेष हुरैन को आयोग का ब्रांड अंबेसडर बनाने के बाद भी बात नहीं बनी। पहले चरण में सात हजार पंजीकृत वोटरों में से लगभग 17 फीसदी ने वोट किया है। जबकि चुनाव आयोग ने इस बार चालीस हजार ट्रांसजेंडर वोटरों को अथक परिश्रम करके पंजीकृत किया था, लेकिन पहले चरण के मतदान में इनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा है।

पहले दौर में 20 राज्यों में 91 लोकसभा सीटों पर 11 अप्रैल को हुए मतदान में ट्रांस जेडरों की भागेदारी लगभग नगण्य रही है। इस चरण के लिए 7774 ट्रांसजेंडर मतदाताओं में से केवल 1395 ट्रांस जेंडरों यानि 17.94 फीसदी ने ही अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। इसमें सबसे अच्छा प्रदर्शन बिहार के ट्रांस जेंडरों ने किया। यहां चार सीटों पर 516 वोटरों में से 360 ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। यानि सत्तर फीसदी इसी क्रम में यूपी में पहले चरण के मतदान में आठ सीटों पर कुल 826 ट्रांस जेंडरों में से केवल 42 ने अपना मताधिकार का प्रयाग किया। इसी क्रम में जम्मू-कश्मीर की बारामुला और जम्मू लोकसभा क्षेत्र की बात करें तो यहां एक भी टंसजेंडर मतदाता मतदान केंद्र तक नहीं पहुंचा। कमोवेश बात करे पूर्वोत्तर राज्यों की तो सिक्किम में एक और मिजोरम में किसी ने वोट नहीं डाला।...

फोटो - http://v.duta.us/JxHlzwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/lsym7QAA

📲 Get Delhi NCR News on Whatsapp 💬