[baloda-bazar] - जलसंकट: गर्मी के दो महीने निस्तारी और पीने का पानी के लिए करनी पड़ेगी मशक्कत

  |   Baloda-Bazarnews

बलौदाबाजार. बलौदाबाजार नगर समेत अंचल की जीवनदायिनी शिवनाथ नदी की धार अप्रैल माह के अंतिम सप्ताह से ही कमजोर होने लगी है। इसे देख ग्रामीण इलाकों के साथ ही साथ बलौदाबाजार नगरवासियों में चिंता व्याप्त है। आगामी दिनों में नगर पालिका को पूरे नगर के लिए पेयजल का इंतजाम करने में खासी मशक्कत करनी पड़ सकती है। वहीं शिवनाथ नदी किनारे के दर्जन भर से अधिक ग्राम के लोगों को भी नदी की धार कमजोर होने से पेयजल तथा निस्तारी के लिए आगामी डेढ़-दो माह भटकना पड़ सकता है।

विदित हो कि अंचल की प्रमुख शिवनाथ नदी बलौदा बाजार नगर के साथ ही साथ ईलाके के सोनाडीह, डमरू, ताराशिव, मेड़, खपरी, केशला आदि दर्जन भर से अधिक ग्रामों के लोगों के पेयजल तथा निस्तारी का सबसे प्रमुख साधन है। नदी की धार कमजोर होने से पूरे इलाके के लोगों की चिंता बढ़ चुकी है। अप्रैल माह के अंतिम सप्ताह में ही नदी की धार कमजोर पडऩे लगी है जिससे क्षेत्र के लोग चिंतित हैं। ग्रामीण इलाकों में भी भूजल स्तर गिरने की वजह से दर्जनों हैंडपंप फेल हो चुके हैं। वहीं नल-जल योजना तथा सार्वजनिक पंप हाऊस लो वोल्टेज तथा बिजली गुल की वजह से भी प्रभावित होने लगे हैं। ग्रामीण ईलाकों के साथ ही साथ नगर के लिए भी शिवनाथ नदी पेयजल प्रदान करने के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण सहारा है।...

फोटो - http://v.duta.us/FDAG7QAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/6tCfywAA

📲 Get Baloda-bazarnews on Whatsapp 💬