[barmer] - दमकल के अभाव में आग बुझाने में निकल रहा ग्रामीणों का दम?

  |   Barmernews

सिवाना बाड़मेर. उपखण्ड क्षेत्र में कहीं भी आग लगने पर होने पर ग्रामीणों को स्वयं अपने स्तर पर आग पर काबू पाने के लिए इधर-उधर दौड़ लगानी पड़ती है। सिवाना उपखण्ड क्षेत्र होने के बावजूद यहां अग्निशमन वाहन नहीं है। एेसे में बालोतरा के भरोसे रहना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने समय-समय पर जनप्रतिनिधियों व स्थानीय प्रशासन अधिकारियों को समस्या से अवगत करवाया, लेकिन समाधान अभी तक नहीं हो पाया है।

बालोतरा से बुलाना पड़ता है अग्निशमन वाहन- सिवाना उपखण्ड क्षेत्र में आगजनी की घटना होने पर आग पर काबू पाने के लिए अग्निशमन वाहन को बालोतरा से बुलाना पड़ता है। बालोतरा से आते-आते अग्निशमन वाहन को करीब एक घण्टे तक का समय लग जाता है। तब तक ग्रामीणों को अपने स्तर पर पानी के टैंकर उड़ेल आग पर काबू पाने की कोशिश करनी पड़ती है। कई बार आग विकराल होने पर अग्निशमन वाहन पहुंचने से पहले ही सब कुछ जल कर राख हो चुका होता है। इससे ग्रामीणों को बड़ा नुकसान उठाना पड़ता है। उपखण्ड क्षेत्र में अग्निशमन वाहन की कमी ग्रामीणों को कई वर्षो से खल रही है, लेकिन समस्या का समाधान नही हो पाया है।...

फोटो - http://v.duta.us/RTV0EgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/5N2ieQAA

📲 Get Barmer News on Whatsapp 💬