[bhilai] - ... जब बीएसपी हॉस्पिटल प्रबंधन ने रोक ली बैगा आदिवासी की लाश

  |   Bhilainews

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र के नाम पर पैबंद लगाने का काम और कोई नहीं, बल्कि उसका ही मेडिकल विभाग कर रहा है। सोमवार की सुबह पुलिस महानिदेशक, छत्तीसगढ़ डीएम अवस्थी, सूचना मिली कि शहडोल (मध्य प्रदेश) के बैगा आदिवासी केशव प्रसाद की पत्नी का सेक्टर-9 हॉस्पिटल के बर्न-यूनिट में निधन हो गया। बैगा आदिवासी परिवार ने अपनी प्रॉपर्टी को बेचकर ईलाज कराया, लेकिन वे शेष करीब 80,000 रुपए का भुगतान करने में असमर्थ हैं, जिसके कारण वह पत्नी का शव लेकर जाने में कठिनाई महसूस कर रहा है।

आईजी को कहा सहायता करने

सेक्टर-9 प्रबंधन हमेशा की तरह ८० हजार के लिए शव परिवार को सौंपने से कतराता रहा। तब तक पुलिस महानिदेशक से सूचना आईजी को मिली और कहा गया कि सहायता करो। आईजी दुर्ग रेंज हिमांशु गुप्ता ने तत्काल सेक्टर-9 हॉस्पिटल पहुंचकर सेक्टर-९ प्रबंधन से इस संबंध में मानवीय आधार पर शहडोल निवासी बैगा आदिवासी परिवार की सहायता करने के लिए कहा।...

फोटो - http://v.duta.us/CnlpNwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/WsswgQAA

📲 Get Bhilainews on Whatsapp 💬