[gwalior] - प्रेम संबंधों में बाधक पति की हत्या करने वाली पत्नी और उसके प्रेमी को आजीवन कारावास

  |   Gwaliornews

ग्वालियर। प्रेम संबंध में बाधक पति की प्रेमी के साथ मिलकर हत्या करने के मामले में न्यायालय ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को दोषी पाते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। दोनों पर पांच-पांच हजार रुपए का जुर्माना भी किया गया है।

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अब्दुल कदीर मंसूरी ने आरोपी पत्नी हेमा और उसके प्रेमी आकाश जाटव को भादसं की धारा 302 के अपराध में दोषी पाते हुए यह सजा सुनाई है। इस मामले में जहां शासन की ओर से अपर लोक अभियोजक अशोक सिंह चौहान ने पैरवी की वहीं फरियादी की ओर से एडवोकेट हरीश दीवान ने पैरवी की। अपर लोक अभियोजक चौहान ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि 17 मार्च 18 को संजय राठौर मोटर साइकिल से घर से बिना बताए चला गया था जो दूसरे दिन तक जब घर नहीं लौटा तब माधौगंज थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई गई। 20 मार्च को तलाश करने पर पता चला कि तिघरा रोड तिराहे के पास झाड़ी में लाश मिली है। लाश की शिनाख्त मृतक के पिता लक्ष्मण सिंह व भूपेन्द्र राठौर व पिंटू कुशवाह ने की। मृतक का जबड़ा टूटा था, उसके गुप्तांग में चोट थी तथा शरीर फूल गया था। लक्ष्मण सिंह ने रिपोर्ट लिखाते हुए बताया कि उसे दस दिन पहले जानकारी मिली थी की संजय की पत्नी हेमा के बौद्ध नगर गुढ़ा ग्वालियर निवासी आकाश जाटव से संबंघ थे। पुलिस ने जब कॉल डिटेल निकाली तो पता चला कि मृतक की पत्नी हेमा के आरोपी संजय जाटव से घटना के एक दिन पहले तक लगातार फोर पर बातचीत जारी रही थी। पुलिस ने परिस्थितिजन्य साक्ष्य आधारित इस मामले में सबूतों को शृंखलाबद्ध करते हुए आरोपीगण के खिलाफ चालान पेश किया। जिसमें न्यायालय ने आरोपों को प्रमाणित पाते हुए दोनों पत्नी और प्रेमिका को दोषी पाते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई है।

फोटो - http://v.duta.us/agzEzwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/p_HMSQAA

📲 Get Gwalior News on Whatsapp 💬