[jabalpur] - क्यों कबूली अपने मरने की बात...कौन है ये

  |   Jabalpurnews

जबलपुर, मैं तो मर ही चुका हूं, अब क्या करूं। यह बात आपको थोड़ी अटपटी लगे, लेकिन एक व्यक्ति ने यह बातें खुद अपनी जुबां से निकाली। कहा कि मैं मर ही चुका हूं, तो अब क्या करूं। जब उसने यह बात कही, तो आसपास खड़े लोग हैरान हो गए, सभी उसे देख रहे थे। किसी ने उसका हाथ पकड़ा, तो कोई बात करने लगा। असल में यह व्यक्ति मतदान करने पहुंचा था,्र जहां उसे मतदान करा रहे अधिकारियों ने कहा कि तुम तो मर गए हो, यह बात सुनकर भौचक्का रह गया और फिर यही बात के सहारे बाहर भी निकल आया। चिलचिलाती धूप में पहले कई किलोमीटर ऑटो का सफर किया और फिर पैदल चला। इस वोटर की उम्र भी ६० साल से अधिक थी, पेशे से चौकीदार यह वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग करने लगभग १० किलोमीटर दूर पोलिंग बूथ पहुंचा तो उसे पता चला कि उसकी मौत हो चुकी है, यह बात सुनकर वह चौंक गया। अधिकारियो और कर्मचारियों से बातचीत की, कम पढ़ा लिखा होने के कारण वृद्ध को उनकी बातें समझ नहीं आई, बस बार-बार वह यही बोल रहा था कि मैं आखिर कैसे मर गया। यह अजीबोगरीब मामला जबलपुर के उत्तर मध्य विधानसभा क्षेत्र का है, जहां एक वृद्ध वोट डालने पहुंचा, तो मतदान कर्मियों ने उसे मरा बताकर वोट नहीं डालने दिया। यह बात स्वयं वृद्ध ने बताई, आइए बताते हैं क्या है इसके पीछे का पूरा मामला......

फोटो - http://v.duta.us/OHK4UgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Ew6bZQAA

📲 Get Jabalpur News on Whatsapp 💬