[jashpur-nagar] - मां बाप से कहा था कि मई में छुट्टी मिलेगी तो ईस्टर पर घर आऊंगा, लेकिन वह आ भी रहा है, तो तिरंगे में लिपटे

  |   Jashpur-Nagarnews

जशपुरनगर. शनिवार की शाम बीजापुर के तोंगगुड़ा कैंप के बाहर हुए नक्सली हमले में जशपुर जिले के कुनकुरी विकासखंड के खारिझारिया गांव ने अपना एक सपूत खो दिया है। शहीद कांस्टेबल अरविंद मिंज के मां बाप भरी आंखों से तिरंगे में लिपटे अपने बेटे को अंतिम बार देखने के लिए इंतजार कर रहे हैं। शहीद जवान ने ईस्टर के दिन बेटे ने फोन पर मां बाप से कहा था कि मई में छुट्टी मिलेगी तो घर आऊंगा, लेकिन वह आ भी रहा है, तो तिरंगे में लिपटकर चुपचाप और अंतिम बार आ रहा है।

शहीद अरविंद कुजूर की मां प्रफुल्ला एवं पिता सेभ्रिन मिंज हैं। जिन्हें रविवार की सुबह 8 बजे बताया गया कि अरविंद नक्सलियों के हमले में शहीद हो गया है। अचानक यह खबर सुनने के बाद माता-पिता के पैरों तले जमीन खिसक गई। वे सदमे में आ गए। सहसा उन्हे विश्वास नहीं हो रहा था कि उनका लाड़ला अरविंद अब हमारे बीच नहीं रहा। यह खबर मिलते ही लोग शहीद अरविंद के घर में जुटने लगे। ग्रामीण वहां पहुंचकर शहीद के माता पिता को ढाढस बंधाते रहे।...

फोटो - http://v.duta.us/o2a4owAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/85bhzQAA

📲 Get Jashpur-Nagarnews on Whatsapp 💬