[jehanabad] - सूखी नदी और ताल, लोग हैं बेहाल

  |   Jehanabadnews

जहानाबाद : शहर के मलहचक निवासी सुगना केवट, भोला केवट बताते हैं कि सिर्फ शहर में करीब 20 घर ऐसे हैं, जो दरधा नदी से मछलियां पकड़कर अपनी रोजी -रोटी कमाते थे, लेकिन पिछले कई वर्षों से नदी में पानी नहीं रहने के कारण अब उनके घर में दोनों टाइम चूल्हे जलने पर भी आफत है. पेशेवर मछुआरे अपने परंपरागत काम को छोड़कर अब किसी तरह मजदूरी कर रहे है.

ये कहते हैं कि नदी में पानी जब होता था, तो सालों हमारा पूरा घर-परिवार सुखी रहता था. अब वो बात नहीं रही. पहले नदियों से काफी मात्रा में मछलियां निकलती थीं, जो बाजार पहुंचते-पहुंचते ऊंची दामों में बिक जाया करती थीं. अब वो दिन हवा हुए. घर की महिलाएं भी दूसरों के घरों में मजदूरी कर किसी तरह से घर संवार रही हैं....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/aeDM8AAA

📲 Get Jehanabad News on Whatsapp 💬