[kaithal] - झांसा देकर 31 लाख रुपये हड़पने का आरोपी गिरफ्तार

  |   Kaithalnews

कैथल। पुलिस ने दो साल में नकदी दोगुनी का झांसा देकर 31 लाख रुपये हड़पने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। स्पेशल साइबर सेल ने पिंजौर में छापा मारकर इसे काबू किया है। आरोपी के कब्जे से 6 लाख रुपये नकदी बरामद की गई है। उसे पूछताछ के लिए न्यायालय में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है।

एसपी वसीम अकरम ने बताया कि रसीना निवासी एक व्यक्ति ने थाना पूंडरी में 7 जनवरी को मामला दर्ज कराया था। जिसमें उसने कहा था कि अनाज मंडी पूंडरी में 14 फरवरी को उसके मोबाइल पर किसी ओमप्रकाश का फोन आया कि वह शेयर मार्केट में इन्वेस्टमेंट करवाने का काम करता है। इसी नंबर से ओमप्रकाश की कथित पुत्री नेहा गुप्ता ने भी फोन पर आश्वासन दिया कि वे आपके पैसे दो साल में डबल करके आपको दे देंगे। इसके बाद ओमप्रकाश ने अनाज मंडी पूंडरी में एक युवक को अपना पुत्र बताकर भेजा, जिसको दोगुने पैसे के लालच में आए व्यक्ति ने 3 लाख 50 हजार रुपये नकदी दे दी। कुछ दिन बाद युवक के पास ओमप्रकाश का फोन आया कि वे आपके काम से गोवा गए हुए हैं, यहां उनकी गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसको ठीक करवाने के लिए रुपयों की जरूरत है, आपके पास अपना लड़का भेज रहा हूं, किसी भी तरीके से पैसे का इंतजाम करके उसे 4 लाख रुपये दे दो, तो 20 फरवरी को उसने पैसे का प्रबंध करते हुए ओमप्रकाश द्वारा भेजे गए सतीश नामक लड़के को 3 लाख रुपये देने के अतिरिक्त उनके कहे अनुसार जरूरत के पैसे निकलवाने के लिए अपना एटीएम भी उस युवक को सौंप दिया। इसके बाद उनके कहे अनुसार 13 फरवरी को एक अकाउंट में 2 लाख 70 हजार रुपये भी जमा करवा दिए, जबकि इस मध्य आरोपी एटीएम की मार्फत भी 21 लाख 87 हजार रुपये नकदी निकलवा चुके थे। पीड़ित ने शिकायत की कि अब तक आरोपियों ने न तो उसकी नकदी 31 लाख 7 हजार रुपये नकदी लौटाई, अब फोन भी नहीं उठा रहे हैं। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर एसपी द्वारा जांच स्पेशल साइबर क्राइम सेल को जांच सौंपी गई। जिसमें इंचार्ज एससीसी सेल सब इंस्पेक्टर शिवकुमार द्वारा उपरोक्त मामले में पिंजौर में दबिश देते हुए करीब 33 वर्षीय आरोपी राकेश कुमार निवासी चुहड़पुर जिला जींद हाल निवासी हिमशिखा कालोनी पिंजौर को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी की निशानदेही पर उसके पिंजौर स्थित किराये के मकान से हड़पी गई 6 लाख रुपये की नकदी बरामद कर ली गई। उसने कुबूल किया कि उसने गबन की गई नकदी से जींद में एक मकान खरीदने के अतिरिक्त एक गाड़ी खरीद ली। इसके बाद आरोपी का 30 अप्रैल तक दो दिन के लिए पुलिस रिमांड हासिल किया गया है। पुलिस इस मामले में आरोपी विकाश उफ बिट्टू व गांव थीट जिला झज्जर निवासी आशीष पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/g00IOgAA

📲 Get Kaithal News on Whatsapp 💬