[khargone] - अपराजेय सेनापति बाजीराव ने 38 लड़ाई लड़ी, सभी में रहे विजयी

  |   Khargonenews

बड़वाह. बाजीराव पेशवा प्रथम की 279 वीं पुण्यतिथि 28 अप्रैल को उनके समाधि स्थल रावेर खेड़ी में मनाई । 2006 से प्रारंभ हुए पुण्यतिथि समारोह का यह 13 वर्ष है। इस कार्यक्रम में बाजीराव पेशवा से जुड़े महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान के लोग भी शामिल होते हैं। ग्राम रावेर खेड़ी में नर्मदा किनारे स्थित समाधि स्थल के पास इस आयोजन में सभी समाजजनों को बाजीराव भोज कराया जाता है। 13 वर्षों से आयोजित हो रहे इस कार्यक्रम में पिछले 5 वर्षों सेे बाजीराव भोज की परंपरा लागू की गई है। बाजीराव भोज में रोटी और बेसन खिलाया जाता है। रोटियां कार्यक्रम स्थल के आसपास के रहवासियों के घर से एकत्रित की जाती है। कार्यक्रम से जुड़े मनोज बिरला, नगेंद्र मुछाला, राजेंद्र साद, वारिस जैन व परमजीत राज्यपाल ने बताया कि इस भोज के माध्यम से बाजीराव के जीवन को बेहतर ढंग से लोग जान पाते हैं। सभी परिवारों से एकत्रित रोटी सामूहिक भोज में परोसी जाती है। तो हर परिवार से बाजीराव के प्रति श्रद्धा का संदेश भी प्राप्त होता है।...

फोटो - http://v.duta.us/1yZ-SQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/LR98igEA

📲 Get Khargone News on Whatsapp 💬