[moradabad] - अस्पताल में हंगामा, नवजात बदलने का आरोप

  |   Moradabadnews

मुरादाबाद। महिला अस्पताल में नवजात को बदलने का आरोप लगाते हुए परिजनों ने रविवार को जमकर हंगामा किया। परिजनों ने कहा कि उनका बेटा पैदा हुआ था। अस्पताल के कर्मचारियों ने बेटे की जगह मृत लड़की थमा दी। हालांकि, अस्पताल के कागजी रिकार्ड में नवजात लड़की ही दर्ज है।

मीरगंज निवासी मंजू पत्नी राजेश को प्रसव पीड़ा होने पर रविवार सुबह करीब सवा चार बजे महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। करीब साढ़े चार बजे मंजू की नार्मल डिलिवरी हो गई। राजेश के मुताबिक अस्पताल कर्मियों ने बेटा होने की बधाई दी। स्टाफ कर्मियों ने बताया कि नवजात बच्चे का वजन कम है। वह काफी कमजोर भी है। कर्मचारियों ने बच्चे की जान को खतरा बताते हुए एसएनसीयू में भर्ती कर दिया। राजेश और उनके रिश्तेदार खेमराज ने बताया कि करीब सवा आठ बजे कर्मचारियों ने नवजात की हालत नाजुक बताते हुए निजी अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। राजेश ने बताया कि आनन-फानन में बच्चे को गांधी नगर स्थित निजी अस्पताल में ले गए। वहां डाक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/hPFFLgAA

📲 Get Moradabad News on Whatsapp 💬