[pauri] - शिक्षा के केंद्र को विवि प्रशासन ने बनाया ठेकेदारी का अड्डा: छात्रसंघ

  |   Paurinews

पौड़ी। हेनब गढ़वाल केंद्रीय विवि के बीजीआर परिसर पौड़ी के छात्र संघ ने हटाए गए सुरक्षा कर्मियों को बहाल किए जाने की मांग की है। कहा कि विवि प्रशासन ने शिक्षा के केंद्र को ठेकेदारी का अड्डा बना दिया है। विवि प्रशासन हटाए कर्मियों की बहाली करे या अनुबंधित सुरक्षा एजेंसी की निविदा निरस्त की जाए।

रविवार को बीजीआर परिसर पौड़ी के छात्र संघ भवन में पत्रकारवार्ता में अध्यक्ष अरविंद नैथानी ने कहा कि विवि प्रशासन मनमानी पर उतर आया है। 2010 में विवि ने 3750 रुपये प्रतिमाह वेतन पर लोगों को सुरक्षा कर्मी के रूप में तैनाती दी। आज दस वर्ष की सेवा होने को है, वेतन 12 हजार तक पहुंच गया है, लेकिन अब इन गरीब असहाय लोगों को विवि प्रशासन बाहर कर रहा है। उन्होंने कहा कि बीजीआर परिसर पौड़ी में सोमवार से अनिश्चितकालीन तालाबंदी शुरू कर दी जाएगी। एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष गौरव सागर व अभाविप के जिला संयोजक नितिन रावत ने कहा कि परिसर निदेशक के सामने समस्याएं रखें तो वह अधिकार नहीं होने की बात कहते हैं। इसके चलते छात्रों को छोटी सी समस्या के लिए भी श्रीनगर के चक्कर काटने पड़ते हैं। उन्होंने कहा कि पौड़ी परिसर में वाई-फाई सात करोड़ खर्च होने के बाद भी सुचारु नहीं हो पाया है। परिसर के शौचालयों में गंदगी का अंबार लगा है। सफाई व्यवस्था पटरी से उतर चुकी है। छात्र परीक्षा में उपस्थित रहते हैं, लेकिन अनुपस्थिति दर्ज कर फेल करवाने का सिलसिला ही चल पड़ा है। उन्होंने कहा कि सेमेस्टर प्रणाली थोपकर विवि छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ कर रहा है। पूर्व विवि प्रतिनिधि भारत भूषण नेगी व पूर्व छात्र संघ सचिव राजेश भंडारी ने कहा कि छात्रसंघ कुलपति को हटाए जाने की मांग कर रहा है। विवि को जल्द स्थायी कुलपति मिलना चाहिए।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/M0G4CgAA

📲 Get Pauri News on Whatsapp 💬