[roorkee] - फर्जी प्रमाणपत्र मामले में विधायक कर्णवाल के बयान दर्ज

  |   Roorkeenews

ब्यूरो/अमर उजाला, रुड़की

झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल के फर्जी प्रमाणपत्र मामले में विवेचना अधिकारी ने उनके बयान दर्ज किए। विवेचना अधिकारी ने विधायक से तमाम बिंदुओं पर जानकारी ली। वहीं, जल्द ही पुलिस सहारनपुर जाकर भी मामले से संबंधित दस्तावेज खंगालेगी। इस मामले में विधायक कर्णवाल ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।

विधायक देशराज कर्णवाल ने वर्ष 2007 में सिविल लाइंस कोतवाली में चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप था कि चारों ने उनके नाम से सहारनपुर में एक फर्जी जाति प्रमाणपत्र बनवाया था। फर्जी प्रमाणपत्र की बात सामने आने पर आरोपियों ने प्रमाण पत्र चोरी कर लिया था। विधायक ने आरोप लगाया था कि वर्ष 2005 में रुड़की तहसील से जारी हुए उनके प्रमाणपत्र को फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर चुनौती दी गई थी। इसी बीच विधायक ने आरोप लगाया था कि उन्हें 12 साल बाद पता चला कि मामले में न ही फाइनल रिपोर्ट लगी है और न ही चार्जशीट दाखिल की गई। इस पर उन्होंने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। कोर्ट ने मामले में संज्ञान लेते हुए पुलिस को एक महीने के अंदर जांच पूरी करने के आदेश दिए थे। मामले में पुलिस अधिकारियों ने विवेचना अधिकारी बदलते हुए गंगनहर कोतवाली प्रभारी राजेश साह को जांच सौंपी थी। साथ ही इस प्रकरण में विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन की शिकायत को भी शामिल किया गया था। नए विवेचना अधिकारी ने पुरानी जांच और नई शिकायत से संबंधित तमाम दस्तावेजों की जांच की। रविवार को विवेचना अधिकारी राजेश साह ने विधायक देशराज कर्णवाल के बयान दर्ज किए। उन्होंने बताया कि मामले में जांच जारी है। उधर, विधायक देशराज कर्णवाल ने बताया कि पुलिस बयान दर्ज करने आई थी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/I5QXxwAA

📲 Get Roorkee News on Whatsapp 💬