[saran] - शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में जमीन का भाव आसमान पर, घर बनाना हुआ मुश्किल

  |   Sarannews

छपरा : घर बनाने की तमन्ना में सारा जहान ढूंढ़ आये, अपने नक्शे के हिसाब से जमीन कुछ कम है. यह मशहूर पंक्ति भले ही किसी और भाव से लिखी गयी हो, लेकिन आजकल हर आम आदमी घर बनाने की तमन्ना लिये इन्हीं पंक्तियों को गुनगुना कर अपना मन मसोस रहा है.

बीते दो दशकों में जिस कदर जमीन के भाव आसमान छूने लगे हैं. उसने आम आदमी को अपना घर बनाने के कोशिशों में काफी बाधा पहुंचायी है. सारण जिले के शहरी क्षेत्र में इस समय जमीन की कीमत सातवें आसमान पर है.

वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में भी ऐसे कई इलाके हैं जहां जमीन की कीमत में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है. शहरी क्षेत्र में जितनी भी जमीन बची है, वह सामान्य लोगों की पहुंच से पहले ही दूर हो गये थे. वहीं, शहर के आठ से 10 किलोमीटर के रेंज में भी जो जमीन बिक रही है, वह आम आदमी के बजट से दूर हैं. ऐसे में सामान्य कमाई वाले लोग चाह कर भी अपने परिवार को घर मुहैया नहीं करा पा रहे....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/XfKfGQAA

📲 Get Saran News on Whatsapp 💬