[shamli] - जीवन में संस्कार का महत्व खत्म हो रहा : ज्ञान सागर

  |   Shamlinews

शामली। श्री दिगंबर जैन साधु सेवा समिति की ओर से आयोजित धर्मसभा में जैन संत ज्ञान सागर महाराज ने दूसरे दिन ज्ञान की अमृत वर्षा करते हुए कहा कि जैन समाज मीट, अंडा, शराब, मोबाइल और टीवी की ओर आकर्षित हो रहे हैं। जैन समाज के लोगों को इनसे बचाने की जरूरत है। ये सब चीजें बीमारी को बढ़ावा देती हैं। बीमारियां जीव को जीवन में तनाव देती हैं। मौजूदा दौर में जीव को आत्म बल बढ़ाए जाने की जरूरत है।

रविवार को तालाब रोड स्थित जैन धर्मशाला में आयोजित धर्म सभा में दूसरे दिन जैन संत ज्ञान सागर महाराज ने कहा कि जीव के पाप पुण्य कर्मों के अनुसार चलते है। अच्छे और बुरे कर्म जीव का भाग्य का फैसला करते हैं। मौजूूदा दौर में जीव के कर्म बिगड़ रहे हैं। जीव के जीवन में संस्कार का महत्व खत्म हो रहा है। जैन समाज को अपने संस्कार और संस्कृति को बचाने की जरूरत है। जैन संत ने कहा कि बच्चों को अपने करियर बनाने के लिए काउंसलिंग कराए जाने पर जोर दिया। काउंसलिंग से माता पिता और बच्चों का लाभ मिलेगा। मौके पर चित्र का अनावरण अनिल कुमार जैन व मुकेश कुमार जैन ने दीप प्रज्वलित किया। उद्यमी जेके जैन, आशीष जैन आलोक जैन ने दीप प्रज्वलित किया गया। पाद पछालन दीपक जैन, राजीव जैन ने किया। शास्त्र भेंट पंकज जैन, रेणु जैन ने किया। महाआरती कमल जैन, निर्मल जैन, अमित जैन आदि मौजूद रहे। इस मौके पर दोपहर 12 बजे से लेकर दो बजे जैन समाज के बच्चों की कैरियर काउंसलिंग में 200 बच्चों ने हिस्सा लिया। गाजियाबाद के रीतेश जैन द्वारा काउंसलिंग में जीवन के पहलुओं को अवगत कराया। जिसमें हमारा जीवन कितना अच्छा बन सकता है। इस मौके पर श्री दिगंबर जैन साधु सेवा समिति के अध्यक्ष जेके जैन एडवोकेट, अनिल जैन, प्रवीण कुमार जैन, राजीव जैन, प्रवीण जैन, मोहित जैन, अखिलेश जैन, सचिन जैन आदि मौजूद रहे।

फोटो - http://v.duta.us/PFF0-AAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/HvSJPAAA

📲 Get Shamli News on Whatsapp 💬