[sheopur] - बस स्टैंड पर दूषित पानी पीने को मजबूर यात्री

  |   Sheopurnews

श्योपुर,

तहसील मुख्यालय बड़ौदा कस्बे के बस स्टैंड पर यात्रियों की प्यास बुझाने के लिए पानी की टंकी तो बनी है। मगर इसकी कई महिनो से सफाईनहीं की गई। इसकी तरफ जिम्मेदारों का कोईध्यान भी नहीं है। ऐसे में यात्रियों को टंकी के दूषित पानी से प्यास बुझाने को मजबूर होना पड़ रहा है।

दरअसल बड़ौदा कस्बा आसपास के 32 गांवों का मुख्यालय कहा जाता है। क्योंकि आसपास के गांवों के लोग जरुरी सामानों की खरीददारी के लिए बड़ौदा आते है।वहीं इलाज सहित अन्य कई जरुरतों की पूर्ति के लिए भी बड़ौदा पर ही निर्भर रहते है। जिसकारण यहां बस स्टैंड पर लोगों की आवाजाही बनी रहती है। लेकिन बस स्टैंड पर यात्रियों की प्यास बुझाने के लिए महज एक टंकी लगी है। टंकी पर ढकान की कोई सुविधा नहीं है। जिसकारण टंकी के पानी में कचरा और पक्षियों के पंख और कीट आदि गिरते रहते है। टंकी की साफ सफाई भी नियमित नहीं होती है। स्थानीय लोगों का कहना है कि टंकी की सफाई काफी समय से नहीं हुई है। जबकि टंकी सफाई नियमित होना जरुरी है।ऐसे में यात्रियों को टंकी के दूषित पानी से प्यास बुझाने को विवश होना पड़ रहा है।

फोटो - http://v.duta.us/OmD_oQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/kNE08gAA

📲 Get Sheopur News on Whatsapp 💬