[sikar] - वर्क परमिट पर भेजने का वादा कर थमा दिया ट्यूरिस्ट वीजा

  |   Sikarnews

श्रीमाधोपुर.

वर्क परमिट पर मलेशिया भेजने के नाम पर पहले तो पीडि़त से एक लाख रुपए ले लिए। बाद में उसे ट्यूरिस्ट वीजा थमा दिया। पीडि़त मलेशिया पहुंचा तो इस ठगी का पता चला। इस पर उसने भारत वापस आकर पुलिस की शरण ली। श्रीमाधोपुर पुलिस थाने में इस्तगासे के आधार पर विदेश भेजने के नाम पर धोखाधड़ी कर रूपए ठगने का मामला दर्ज हुआ है। कोर्ट के जरिए इस्तगासे के आधार पर पुलिस थाने में आरोपी के खिलाफ 10 अप्रेल को मामला दर्ज कराया था।

पुलिस के अनुसार वार्ड छह श्रीमाधोपुर निवासी गंगाराम पुत्र महादेव रैगर ने डाबर जोहड़ी, तारपुरा सीकर निवासी महेश कुमार भींचर के खिलाफ धोखाधड़ी और रुपए हड़पने का मामला दर्ज कराया है। पीडि़त का कहना है कि वह रोजगार के लिए पासपोर्ट कार्यालय सीकर में पासपोर्ट बनाने के लिए सीकर गया था। वहां पर आरोपी महेश कुमार भींचर से उसकी जान-पहचान हो गई। आरोपी ने अपने आप को विदेश भेजने का एजेंट बताकर उसके मोबाइल नंबर ले लिए तथा श्रीमाधोपुर मिलने के लिए कहा। 17 जून 2017 को आरोपी ने मलेशिया कंपनी में वर्क परमिट पर भेजने का वादा किया और दस्तावेज मांगे। दस्तावेज देने के बाद धोखाधड़ी करते हुए आरोपी ने उसी दिन 50 हजार रुपए नकद ले लिए। इसके बाद पीडि़त ने अलग-अलग किस्तों में आरोपी को कुल एक लाख आठ हजार रुपए दे दिए। आरोपी द्वारा बनाए गए वीजा व टिकट पर 14 जून को वह एक और साथी शिंभूदयाल के साथ मलेशिया चला गया। आठ दिनों तक आरोपी के दलाल के पास बंधुआ मजदूर के रूप में रहा। पीडि़त ने वहां जानकारी जुटाई तो पता लगा कि उसका तो 15 दिनों का टूरिस्ट वीजा है। इस पर परिजनों से संपर्क कर भारत आने के लिए 33919 रुपए का एयर टिकट बनाया। बदहवास स्थिति में वह भारत पहुंचकर अपने घर लौटा और आरोपी से अपनी राशि मांगी तो आरोपी उसे इतने दिनों तक रुपए लौटाने का झांसा देता रहा और बाद में रुपए लौटाने से मना कर दिया। इस पर पीडित ने इस्तगासे के आधार पर पुलिस थाने में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कराया।

फोटो - http://v.duta.us/zhvsmQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/jkBQBwAA

📲 Get Sikar News on Whatsapp 💬