[singrauli] - कॉल सेंटर में उपभोक्ता शिकायत कम, व्यक्तिगत ज्यादा

  |   Singraulinews

सिंगरौली. शिकायतों की सुनवाई के लिए तय प्लेटफार्म का सही उपयोग कम होने की बात सामने आई है। इसकी जगह गलत सूचना देने या व्यक्तिगत विषयों में राहत पाने के लिए बिजली कंपनी के टोल फ्री नंबर या काल सेंटर का सहारा लिया जा रहा है।

शिकायत के लिए बना कॉल सेंटर

मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र बिजली कंपनी के उपभोक्ता शिकायतों पर कार्रवाई के लिए स्थापित काल सेंटर के टोल फ्री नंबर पर सिंगरौली जिले से जुड़ी शिकायतों की जांच के बाद यही स्थिति देखी गई है। बिजली कंपनी की ओर से उपभोक्ताओंं को आनलाइन शिकायत दर्ज कराने के लिए जबलपुर मुख्यालय पर काल सेंटर स्थापित है। इसके टोल फ्री नंबर १९१२ पर उपभोक्ताओं की शिकायत दर्ज कर उसके त्वरित निराकरण की व्यवस्था लागू है। इस नंबर पर सिंगरौली जिले के उपभोक्ताओं की ओर से भी अपनी बिजली संबंधी शिकायतें दर्ज कराई जाती हैं। मगर देखा गया है कि इस नंबर पर जिले से दर्ज कराई जाने वाली काफी शिकायतें आधारहीन रहती है। वहां दर्ज कराई जाने वाली शिकायतों की जिला स्तर पर होने वाली पड़ताल के बाद यही नतीजा निकलता है। बताया गया कि कुछ शिकायत ऐसी रहती हैं जिनमें बिजली कार्मिकों के स्तर पर कार्रवाई हो चुकी होती है मगर मनमाफिक काम नहीं होने के चलते ही शिकायत कर दी जाती है।...

फोटो - http://v.duta.us/rURfQgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/TYpUjQAA

📲 Get Singrauli News on Whatsapp 💬