[sri-ganganagar] - विवाहिता की हत्या के मामले में गिरफ्तार देवर को भेजा जेल

  |   Sri-Ganganagarnews

हत्या के कारणों का अभी नहीं हुआ खुलासा, जांच जारी

श्रीगंगानगर. शहर के एच ब्लॉक में डिग्गी के समीप शुक्रवार शाम को विवाहिता की गर्दन पर चाकू के वार कर हत्या के आरोप में गिरफ्तार मृतका के देवर को रविवार को पुलिस ने अदालत में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया है। पुलिस अन्य आरोपियों को लेकर मामले की जांच कर रही है।

कोतवाली थाना प्रभारी हनुमानाराम बिश्नोई ने बताया कि शुक्रवार शाम को विवाहिता की गर्दन कटने से मौत हो गई थी। शव को राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवा दिया था। पुलिस अधिकारियों ने मौका मुआयना किया और एफएसएल व एमओबी टीम ने साक्ष्य जुटाए थे। देर रात को मृतका के भाई श्रीराम इन्कलेव वार्ड नंबर बारह पदमपुर निवासी हेमंत कुमार पुत्र भोजाराम ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसकी बहन चंपा (25) का विवाह 19 जुलाई 2015 को विनोबा बस्ती निवासी सुरेश कुमार पुत्र चतुर्भुज से हुआ था। वह चार-पांच दिन से बीमार थी और उसका एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। शुक्रवार को उसे अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी। उसे ले जाने के लिए भाई हेमंत कुमार पौने पांच बजे यहां पहुंचा था। दस मिनट बहन से ससुराल में रुका था। इस दौरान पीहर जाने के लिए चंपा काफी खुश थी। इसके बाद भाई अपने ननिहाल चावला चौक चला गया था। इस दौरान चंपा व उसका पति सुरेश कुमार घर थे तथा देवर नरेश कुमार नीचे दुकान पर था। पांच बजे बाद नरेश ने फोन कर बताया कि चंपा ने चाकू से गला काट लिया है। कुछ देर में सुरेश ने भी फोन किया। घर पहुंचा तो सभी वहां खड़े हुए थे और चंपा का शव बेड पर पड़ा था। उसके गले पर कपड़ा बांध रखा था। फर्स पर खून फैला हुआ था। उसके एम्बुलेंस से अस्पताल ले गए। जहां उसको देखा तो उसके कान में बाली नहीं थी। इससे लगता है कि हाथापाई हुई थी। किन्ही कारणों से चंपा की हत्या उसके देवर नरेश कुमार, पति सुरेश कुमार व ससुर ने मिलकर की है। पुलिस ने आरोपी नरेश कुमार को विवाहिता की हत्या के मामले में शनिवार शाम को गिरफ्तार किया था। आरोपी को रविवार को अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/uv7KcwAA

📲 Get Sri Ganganagar News on Whatsapp 💬