[ujjain] - अक्षय तृतीया : 16 साल बाद अबूझ मुहूर्त में गूंजेगी शहनाई

  |   Ujjainnews

उज्जैन. वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया 7 मई को स्वयं सिद्ध मुहूर्त पर इस वर्ष चार ग्रहों का एक विशेष संयोग बन रहा है। करीब 16 साल बाद ऐसा मौका आया है, जब सूर्य, चंद्र, शुक्र और राहू उच्च राशि में दृष्टिगोचर होंगे। बैशाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया को मनाई जाने वाली अक्षय तृतीया भी इसी दिन है।

चार ग्रहों के संयोग ने बनाया खास

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार ग्रहों के संयोग से खास मंगल कार्यों के लिए लाभकारी माने जाने वाले इस दिन अक्षय तृतीया को चार ग्रहों के संयोग ने और खास बना दिया है। इससे पहले वर्ष 2003 में चार ग्रहों का संयोग बना था। अक्षय तृतीया पर तो शहर में जमकर शहनाइयां गूंजेगी ही, उसके बाद जून के महीने में भी शादी की धूम रहेगी। कैलेंडर वर्ष के बचे हुए महीनों में जुलाई के पहले सप्ताह में मंगल कार्यों के लग्न है।...

फोटो - http://v.duta.us/LSzaTwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/_zRTXwAA

📲 Get Ujjain News on Whatsapp 💬