[chhattisgarh] - आदिवासी अंचल बलरामपुर में फूलों की खेती कर कमाई कर रहे हैं किसान

  |   Chhattisgarhnews

छत्तीसगढ़ के आदीवासी अंचल बलरामपुर जिले में भी किसान अब फूलों की खेती करना शुरू कर दिया है. दरअसल रामनगर गांव का किसान सुनिल कुमार टोप्पो ने गेडियस के फूल अपने खेतों में लगाये हैं और अब रंग बिरंगे फूल खिलने भी शुरू हो गये हैं. सुनिल ने बताया कि वह फूलों की खेती इसलिये करना शुरू किया है. क्योंकि यहां के लोगों को फूलों के लिये परेशानी उठानी पड़ती है. अंबिकापुर जाकर लोग फूल लाते हैं.

बलरामपुर जिले के किसान एक समय धान गेहूं के अलावा अन्य फसलों को कम महत्व देता था, लेकिन अब जो युवा हैं और खेती किसानी से जुड़े हैं, वे किसान नई तरह की फसलों की खेती करना भी शुरू किया है. जैसा कि सुनिल कुमार ने बताया कि वे फुलों से अच्छा आमदनी कमाना चाहते हैं. वहीं किसानों के खेतों तक पहुंचने वाले कृषि विभाग के ग्रामीण कृषि विकास अधिकारी राजेन्द्र यादव ने बताया कि सुनिल एक पढ़ा लिखा किसान हैं और इन्हें विभाग द्वारा कृषण भ्रमण के लिये दिल्ली तक ले जाया गया था. परिणाम आज वे फूलों की खेती कर रहे हैं....

फोटो - http://v.duta.us/-CmMBgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/GG4uvQAA

📲 Get Chhattisgarh News on Whatsapp 💬