जयपुर में बरसतीं रहीं गोलियां, जान बचाने के लिए भागा बाहर पर नहीं मिला कोई मददगार

  |   Rajasthannews

प्रदेश की राजधानी जयपुर में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं. इसका प्रदर्शन इस बार मानसरोवर थाना इलाके में हुआ है. बदमाशों ने सरेआम घर में घुसकर फायरिंग की, खून भी बहा लेकिन इस बार निशाने पर बदमाशों के अपने ही गैंग का गुर्गा था. सड़क पर वारदात के निशान सुर्ख हैं. पड़ोसियों में दहशत इस क़दर है कि कैमरे के आगे जुबां खोलने से क़तरा रहे हैं. रात तो गोली की आवाज ने सबके दिल में ऐसा डर बैठा दिया जो निकाले नहीं निकल रहा है.

पुलिस ने 'आमजन में विश्वास और अपराधियों में डर' के होर्डिंग्स लगा रखे हैं लेकिन यहां मामला उल्टा है. ये कोई पहली वारदात नहीं है बल्कि राजधानी में गोलियों की आवाज सुनना अब आम बात हो गई है. रात को मानसरोवर थाना इलाके में हफ्ता वसूली की बात को लेकर एक ही गैंग के दो बदमाशों के बीच तकरार हुई. तकरार हाथापाई में बदली. बीचबचाव भी हुआ, सब अपने- अपने घर निकल गए लेकिन एक घंटे बाद अपराधियों का एक गुट घर पहुंचकर सो रहे सुनील कुमार सिंह उर्फ सद्दाम की नींद में खलल डाल दिया और गोलियां बरसने लगीं, लहूलुहान सद्दाम अपनी जान बचाने के लिए बाहर भागा. बदमाशों के आगे कोई पड़ोसी मदद के लिए नहीं आया और दो गोलियां सद्दाम के हाथ और पैर को भेद गईं....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Zz6SjgAA

📲 Get rajasthannews on Whatsapp 💬