असली वहशी न मिला तो न जाने कितनी बच्चियों को बनाएगा शिकार

  |   Jalaunnews

बता दें कि पुलिस ने बच्ची के साथ हुए मामले में गांव के ही एक वृद्ध व एक अधेड़ के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। ग्रामीणों ने दलील है कि यदि नामजद मोतीलाल व जाहर सिंह आरोपी होते तो पुलिस को गांव घर में न मिलते। पुलिस ने सिर्फ बच्ची के पिता से कोई उसका पुराना विवाद पूछा और फिर पिता के जुबान से दोनों का नाम निकलते ही पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। आरोपियों के परिजन ग्रामीणों के साथ घंटों तक थाने के बाहर डटे रहे। जिससे स्थिति बिगड़ते देख अधिकारियों ने आसपास के थानों की फोर्स भी बुला ली। इतना ही नहीं दंगा नियंत्रण दल को भी मौके पर बुलाया गया। देर शाम पुलिस दोनों आरोपियों को भारी सुरक्षा के बीच थाने में ही बैठाए रहे। ग्रामीणों का कहना है कि यदि निष्पक्ष जांच नहीं हुई तो असली वहशी दरिंदा और न जाने कितनी बच्चियों को अपनी हैवानियत का शिकार बनाएगा।...

फोटो - http://v.duta.us/SKEXDwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/fIRKbAAA

📲 Get Jalaun News on Whatsapp 💬