गणित के दो शिक्षक मिलकर चार बच्चे को नहीं करा पाए पास

  |   Chittorgarhnews

चित्तौडग़ढ़. शिक्षा विभाग शैक्षिक गुणवत्ता बढ़ाने के भले खूब दावे करे लेकिन बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम हकीकत को उजागर कर रहे है। चित्तौड़ ब्लॉक में स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बिलोदा में गणित के दो शिक्षक मिलकर चार बच्चों को गणित में पास नहीं करा पाए। यहां पर दसवीं में ४ बच्चों ने परीक्षा दी जिसमें से एक सप्लीमेंट्री आई व तीन बच्चे अनुतीर्ण हो गए।

बिलोदा स्कूल में १४ पद स्वीकृत है। विज्ञान, अंग्रेजी के पद रिक्त चल रहे थे लेकिन यहां पर गणित के शिक्षक सहित प्रधानाचार्य स्वयं गणित विषय से सम्बन्धित थे। इसके बावजूद इस विषय में कोई बच्चा पास नहीं हो पाया। हॉलाकि प्रधानाचार्य देवेंद्र पोखरना का कहना है वह स्वयं कुछ माह बीमार हो गए तथा गणित के शिक्षक को भी चुनाव में लगा दिया था जिससे परिणाम खराब हो गया। जिले के कई शिक्षकों ने सत्रांक में पूरे नंबर दिए लेकिन बच्चे फिर भी शून्य नंबर लाए।...

फोटो - http://v.duta.us/RvZeewAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/aQgFMgAA

📲 Get Chittorgarh News on Whatsapp 💬