चिल्ड्रन पार्क व जवाहर पार्क बदहाल, 32 में से ड्यूटी पर मिले महज दो कर्मचारी

  |   Kaithalnews

कैथल। रविवार शाम को चिल्ड्रन पार्क में अचानक दौरा करने पहुंचे हरियाणा सरकार के एक और सुधार प्रोजेक्ट डायरेक्टर रोकी मित्तल को पार्क में कई अव्यवस्थाएं मिलीं। पार्क में दौरा करने पहुंचे मित्तल को विद्क्यार झील में गंदगी मिली, फव्वारे भी खराब मिले और झूले भी टूटे हुए मिले। इसके साथ ही पार्क में बनाए गए शौचालयों की हालत खस्ता थी और पीने का पानी भी पार्क में नहीं मिला। पार्क में तैनात 32 कर्मचारियों में से केवल दो ही कर्मचारी मिले। जिस पर डायरेक्टर ने ठेकेदार को फोन करके लताड़ लगाई।

टैंकियों में पानी भी मिला गंदा

पार्क में निरीक्षण करने पहुंचे हरियाणा सरकार के एक और सुधार कमेटी के डायरेक्टर रोकी मित्तल सबसे पहले विद्क्यार झील की स्थिति की जांच की। जिसमें उन्हें यहां पर गंदगी का आलम मिला। इसके बाद वह यहां स्थित पानी की टंकी के पास पहुंचे जहां उन्होंने टंकी में पानी की जांच की। यहां पर भी उन्हें गंदा पानी मिला। इसके बाद वे शौचालयों में पहुंचे जहां उन्हें शौचालयों की हालत खस्ता मिली। यहां पर रोकी मित्तल ने यहां पर ड्यूटी दे रहे कर्मचारियों की जानकारी हासिल की तो उन्हें केवल दो ही कर्मचारी मिले। जिसमें एक सुपरवाईजर और केवल एक ही सुरक्षाकर्मी था। जब इन दोनों कर्मचारियों से अन्य कर्मचारियों की संख्या जानी गई तो उन्होंने कुल 32 कर्मचारियों की यहां ड्यूटी बताई। इस पर रोकी मित्तल ने ठेेकेदार से फोन पर कर्मचारियों के बारे जानकारी प्राप्त की तो ठेकेदार के पास कर्मचारियों के न होने का कोई जवाब नहीं मिला और उसने रविवार होने के कारण छुट्टी का बहाना बनाया। इस पर कर्मचारियों से हाजिरी का रजिस्ट्रर मांग तो उन्होंने रजिस्टर के ठेकेदार के पास होने का जवाब दिया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/2r4fLQAA

📲 Get Kaithal News on Whatsapp 💬