जल्द शुरु हो सकता है प्लास्टिक से डीज़ल का कॉमर्शियल उत्पादन, एक टन के प्लांट शुरु कर रहा है IIP

  |   Uttarakhandnews

देश को गैस बचाने वाले पीएनजी बर्नर देने वाले भारतीय पेट्रोलियम संस्थान (आईआईपी) जल्द ही प्लास्टिक से डीज़ल बनाने की तकनीक का तोहफ़ा दे सकता है. प्लास्टिक से डीज़ल बनाने की तकनीक आईआईपी पहले ही ईजाद कर चुका था अब जल्द ही इसका कॉमर्शियल उत्पादन के लिए टेस्ट किया जा रहा है. सब ठीक रहा तो अगले महीने से यह तकनीक उद्योगों के लिए उपलब्ध हो सकती है. आईआईपी ने प्लांट के लिए प्लास्टिक की उपलब्धता के लिए गैर सरकारी संगठन गति फ़ाउंडेशन से क़रार किया है.

पिछले साल नवंबर में आईआईपी ने पीएनजी बर्नर ईजाद किया था जिससे 20 फ़ीसदी तक गैस की बचत होती है. इन बर्नर के निर्माण के लिए आईआईपी ने कई कंपनियों के साथ क़रार किया है. यह बर्नर अब मिलने भी शुरु हो गए हैं. इसी के साथ आईआईपी ने प्लास्टिक से डीज़ल बनाने की तकनीक भी विकसित की थी. इस तकनीक से बने डीज़ल से आईआईपी में गाड़ियां चलाकर टेस्ट भी किए गए हैं. जल्द ही आईआईपी इस तकनीक का कॉमर्शियल प्रोडक्शन टेस्ट करने जा रहा है....

फोटो - http://v.duta.us/zx5IbwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/1IYSfAAA

📲 Get uttarakhandnews on Whatsapp 💬