तय संख्या से तीन गुनी सवारियों को बिठा रहीं निजी बसें

  |   Lalitpurnews

जान जोखिम में डाल कर रहे ‘मौत’ का सफर

ललितपुर। निजी बस संचालकों की पैसे कमाने की भूख कम होने का नाम नहीं ले रहीं है। वह बस में निर्धारित संख्या से तीन गुनी सवारियों की जान से खिलवाड़ कर यात्रा करा रहे हैं और बसों में अंदर से अधिक सवारियों को छत पर बैठा रहे हैं तो कुछ को जाल पर लटका कर यात्रा करा रहे हैं, जिससे किसी दुर्घटना होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। इस ओर विभागीय अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं।

परिवहन विभाग द्वारा निजी बसों को परमिट जारी किया जाता है, जिसमें बस के चलने का समय, गंतव्य तक पहुंचने का समय, बस का मार्ग, सवारियों की संख्या और लगेज के लिए मानक तय किए गए हैं। इसमें बस में सवारियों की संख्या 52 तय की गई है। बस में इतनी सवारियां बिठाने का ही रजिस्ट्रेशन किया जाता है। इससे अधिक बैठाने पर विभागीय अधिकारियों व सचल दल द्वारा अभियान चलाकर जांच की जाती है। जांच में सवारियां अधिक पाए जाने पर कार्रवाई की जाती है। लेकिन, निजी बस संचालकों की अधिक पैसे कमाने के चक्कर में विभागीय नियमों केे ताक पर रखकर बसों को मार्ग पर दौड़ा रहे हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/hAPwAAAA

📲 Get Lalitpur News on Whatsapp 💬