पत्रिका अमृतम् जलम् : बिछिया बचाने भगीरथ बने बच्चे-बुजुर्ग, युवाओं के बढ़ाए हाथ

  |   Rewanews

रीवा. शहर की प्राणदायिनी जीवनदायिनी नदियों को बचाने के लिए तीसरे रविवार की सुबह भी नगर के लोगों ने बढ़-चढक़र श्रमदान किया। इस बार भगीरथ बनने बच्चे से लेकर बूढों तक के हाथ बढ़े। करीब दो घंटे तक चले श्रमदान के दौरान न केवल युवा आगे आए बल्कि इस बार बच्चों और बुजुर्गों के श्रमदान का उत्साह देखते बन रहा था। सामाजिक संगठनों, समाजसेवियों, बुद्धजीवियों, पर्यावरणविदों के मेलजोल से बिछिया नदी से एक ट्राली से ज्यादा जलकुंभी बाहर किया। यही नहीं बच्चों ने पक्के घाट के दोनों छोर पर बड़ी मात्रा में घास को उखाड़ फेंका।

बिछिया को बचाने नदी में कूद पड़े भगीरथ...

फोटो - http://v.duta.us/qu9XoQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tkiTzwAA

📲 Get Rewa News on Whatsapp 💬