प्रतिस्पर्धा से बच्चों में बढ़ रही ये बीमारी, उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करें दबाव न बनाएं

  |   Kanpurnews

भारतीय बालरोग अकादमी की ‘मिशन उदय’ कार्यशाला में किशोरों में बढ़ते डिप्रेशन का मुख्य कारण प्रतिस्पर्धा बताया गया। इसमें कहा गया कि बच्चों में प्रतिस्पर्धा को लेकर घर वालों के दबाव के कारण डिप्रेशन हो जाता है। इस समस्या के सुलटाने में घरवालों की भूमिका अहम है।

बच्चों को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करें लेकिन दबाव न बनाएं। दबाव से नकारात्मकता आती है। सकारात्मक सोच के साथ बच्चों को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करें जिससे उन्हें तनाव न हो। कार्यक्रम का आयोजन जीटी रोड स्थित एक होटल में किया गया।

इस मौके पर दिल्ली के डॉ. पीयूष गुप्ता ने मिशन उदय में शामिल किए गए रोग एंटी माइक्रोबियल रिसेस्टेंस, लेप्टो स्पायरोसिस, स्क्रब टाइफस, ऑटिज्म, किशोरावस्था अवसाद आदि रोगों के संबंध में बताया। उन्होंने लेप्टो स्पायरोसिस और स्क्रब टाइफस के संबंध में बताया कि इन रोगों में तेज बुखार आता है और कारण पता नहीं चल पाता।...

फोटो - http://v.duta.us/LkpofgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/59WllwAA

📲 Get Kanpur News on Whatsapp 💬