प्रदेश के 35000 सरकारी स्कूल बंद होने की कगार पर, जानिये क्यूं

  |   Narsinghpurnews

अजय खरे. नरसिंहपुर. शिक्षा का अधिकार अधिनियम सरकारी स्कूलों की सेहत के लिए दुश्मन साबित हो रहा है। आरटीई के चलते सरकारी स्कूलों में प्रवेश में कमी का आंकड़ा चौंकाने वाला है। नरसिंहपुर जिले में सरकारी स्कूलों में आरटीई लागू होने के बाद से प्रवेश संख्या 156000 से घटकर 86163 रह गई है। वर्ष 2009-10 में शासकीय मिडिल स्कूलों में छात्रों की दर्ज संख्या 156000 थी । वर्ष 2010-11 में आरटीई लागू होने के साथ ही साल दर साल बच्चों की प्रवेश संख्या में कमी आती गई। परिणामस्वरूप जिले में करीब 600 स्कूल बंद होने की स्थिति आ गई है। इनमें छात्र संख्या कम होने की वजह से स्कूल बंद कर उन्हें दूसरे स्कूलों में मर्ज कर दिया गया है। बंद किए गए स्कूल के शिक्षकों को दूसरे स्कूलों में पदस्थ कर दिया गया है। शिक्षा विभाग के लोगों की मानें तो पूरे प्रदेश में 35000 विद्यालय बंद हो सकते हंै ।...

फोटो - http://v.duta.us/hbC06AAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/oolJ2QAA

📲 Get Narsinghpur News on Whatsapp 💬