मौत भी इस जोड़े को नहीं कर सकी अलग, पति की मौत के कुछ देर बाद पत्नी ने भी छोड़ी दुनिया, कोर्ट में की थी लव मैरिज

  |   Rajsamandnews

लक्ष्मण सिंह राठौड़/राजसमंद

अठारह वर्ष पहले प्रेम विवाह के अटूट बंधन में बंधे, जब दुनिया से रुखतस हुए तो भी एकसाथ। एक दम्पती के असमय इंतकाल ने दो मासूम बच्चों की परवरिश पर संकट खड़ा कर दिया है। टीबी के चलते पति जिन्दगी से हारा, उनकी देह कब्रिस्तान में दफनाकर रिश्तेदार घर लौटे ही थे कि पति का वियोग सह न सकी पत्नी भी चल बसी।

गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करने वाले इस परिवार में कोई करीबी रिश्तेदार नहीं है, जो उन्हें पाल पोस सकें। मार्बल ट्रेडिंग कर गुजारा चलाने वाले मोहम्मद हनीफ (45) पुत्र अहमद बक्ष ने वर्ष 2001 में शहनाज बानू उर्फ शाना बानू से कोर्ट मैरिज (निकाह) कर लिया था। ट्रेडिंग के कार्य से परिवार की आर्थिक स्थिति भी मजबूत हुई। उसी दरमियान बेटे मोहम्मद आशिम व बेटी शाईन अंजूम का जन्म हुआ। वक्त के साथ परिवार की जिम्मेदारियां जब बढऩे लगीं, तभी हनीफ को बीमारी जकडऩे लग गई। कुछ छिटपुट मजदूरी कर कमाता भी था, मगर उसी के इलाज में खर्च हो जाता।...

फोटो - http://v.duta.us/LU28TwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/jH_biAAA

📲 Get Rajsamand News on Whatsapp 💬