मूलभूत सुविधाओं के लिए सामाजिक आंदोलन जरूरी

  |   Dehradunnews

ब्यूरो,अमर उजाला/विकासनगर

साहिया। कालसी ब्लॉक के दातनू गांव में रविवार को पहली बार कर्मचारी सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में गांव के सरकारी सेवा में कार्यरत कर्मचारियों के साथ ही सभी लोगों ने प्रतिभाग किया।

सम्मेलन की शुरुआत से पहले ग्रामीणों ने पंचायती आंगन में हवन पूजन कर ग्रामोत्थान कल्याण संगठन का गठन किया गया। इस दौरान गांव के विकास के बड़े स्तर पर समाजिक आंदोलन शुरू करने का निर्णय लिया गया। संगठन के अध्यक्ष गुलाब सिंह चौहान ने कहा कि ग्रामीण पलायन रोकने के लिए सामाजिक समानता एवं न्याय पर आधारित समाज की स्थापना करने के साथ ही गांवों में मूलभूत सुविधाओं का विकास भी जरूरी है। सचिव खजान सिंह चौहान ने कहा कि पलायन रोकने के लिए राजनीति से दूर रहकर प्रत्येक ग्रामीण को स्थानीय स्तर पर ही पहल करनी होगी। गांवों की स्थानीय भौगोलिक, सामाजिक, सांस्कृतिक परिस्थितियों के अनुसार विकास की योजनाएं बनाकर युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने होंगे। इसके लिए परंपरागत खेती को बढ़ावा देने के साथ ही बागवानी और पशुपालन को तकनीकी स्तर पर बढ़ावा देना होगा। गांवों में बिजली और पानी की समस्या के निदान के लिए गांव में रहने वालों के साथ ही गांव से बाहर रह रहे नौकरी पेशा लोगों को कोशिश करनी होगी। इस दौरान नौकरी पेशा लोगों ने समस्याओं के निदान के लिए अपनी भागीदारी निभाने का निर्णय लिया। इस दौरान संजय सिंह, भाव सिंह, गुलाब सिंह, बारु चौहान, मुकेश चौहान, चमन सिंह, अर्जुन सिंह, अनिल सिंह, अजय चौहान, मंजीत सिंह, गजेंद्र चौहान, अंकेश, कुंदन सिंह, नरेंद्र सिंह, जीत सिंह, आशीष चौहान, त्रिलोक सिंह आदि मौजूद रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/XDHKsQAA

📲 Get Dehradun News on Whatsapp 💬