युग सुंदर सदिया सुंदर गर मानव जीवन हो सुंदर: गुरूमाता सुदीक्षा

  |   Tehrinews

नई टिहरी। बौराड़ी स्टेडियम में संत निरंकारी मिशन की ओर से आयोजित तीन दिवसीय निरंकारी युवा संगोष्ठी का समापन हो गया। मिशन की प्रमुख गुरुमाता सुदीक्षा ने कहा कि मानव शरीर पांच तत्वों से मिलकर बना है, लेकिन जो छठे तत्व निरंकार रूपी ब्रह्म ज्ञान की ज्योति को प्राप्त करता है, और इस निरंकार को देखकर अपने जीवन की यात्रा करता है। तब पूरा युग सुंदर, सदियां सुंदर और प्रत्येक मानव मानवीय गुणों से सुंदर बन जाता है।

रविवार को बौराड़ी स्टेडियम में आयोजित समागम के समापन पर गुरुमाता सुदीक्षा ने कहा कि जिस तरह से एक कुम्हार एक ही प्रकार की मिट्टी का इस्तेमाल कर कई प्रकार की आकृतियों के बर्तन बना देता है ठीक उसी प्रकार हम भी अलग-अलग रूपरंग की आकृतियां है। सद्गुरु की शिक्षा को सीखकर अपने जीवन में अपनाएं और संसार को प्ररेणा दें तभी जीवन सफल होगा। समागम के समापन पर पहुंचे अतिथियों ने संसार में निरंकारी मिशन की ओर से संचालित कार्यों की जमकर प्रशंसा की। संगोष्ठी में उत्तराखंड के अलावा यूपी, हिमाचल, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और पंजाब आदि क्षेत्रों से मिशन के कार्यकर्ताओं ने शिरकत की। इस मौके पर पूर्व पीसीसी चीफ किशोर उपाध्याय, पूर्व मंत्री दिनेश धनै, खेम सिंह चौहान, एससी आयोग की सदस्य स्वराज विद्वान, रमेश रमोला, जोनल इंचार्ज हरभजन सिंह, संपत लाल शाह, मनोहर कुडियाल, सबल सिंह चौहान, शांति प्रसाद भट्ट, राकेश राणा,देवेंद्र नौडियाल आदि मौजूद थे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/901W3AAA

📲 Get Tehri News on Whatsapp 💬