152 गांवों की 33150 हैक्टेयर की सिंचाई अधर में, प्रभावित हुई गर्मी कपास की बोवनी

  |   Khargonenews

खरगोन.

इंदिरा सागर परियोजना की ब्रांच खरगोन उद्वहन परियोजना के कमांड एरिया बीआर-1, बीआर-2 व बीआर-3 में अब तक पानी नहीं छोड़ा गया है। इसका सीधा असर क्षेत्र के १५२ गांवों की पेयजल व सिंचाई व्यवस्था पर पड़ रहा है। नहरों में पानी न छोडऩे के कारण क्षेत्र में गर्मी के कपास की बोवनी प्रभावित हो गई है। रोजाना किसान अफसरों व जनप्रतिनिधियों के चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन समाधान नहीं निकल रहा। किसानों की समस्या को लेकर शनिवार-रविवार की रात में नर्मदा लाओ-किसान बचाओ समिति सदस्यों की बैठक हुई। समिति संरक्षक जितेंद्र यादव ने बताया किसानों की समस्या पर मंथन किया है। पहले नवनिर्वाचित सांसद गजेंद्र पटेल व विधायक रवि जोशी से मिलेंगे। वह समाधान नहीं निकालते हैं तो किसानों के हित में जन आंदोलन किया जाएगा।...

फोटो - http://v.duta.us/cAu7TAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/XVGugAAA

📲 Get Khargone News on Whatsapp 💬