एमबी हॉस्पिटल के हृदय पर ही लगा आघात, लाखों का सामान बन रहा कबाड़

  |   Udaipurnews

भुवनेश पण्ड्या/उदयपुर . महाराणा भूपाल हॉस्पिटल MB hospital udaipur में बने कार्डियोलॉजी यूनिट ने भले ही हजारों हृदय रोगियों की सेहत सुधारी हो, लेकिन यह खुद बीमार है। हॉस्पिटल के बेसमेंट में 10 से 11 कमरे बने हुए हैं, लेकिन इस सुसज्जित हिस्से को टॉयलेट से रिसते पानी ने कबाड़ बना दिया है। बेहतर लेक्चर थियेटर से लेकर लाखों का सामान व शानदार तरीके से तैयार की गई पूरी छत कबाड़ हो चुकी है। यह बेसमेंट दो तालों में रहता है। पत्रिका टीम ने प्रयास कर इसके ताले खुलवाए तो तालों में और पर्दे में छिपाई गई कई कमजोरियां सामने आई। पहला ताला खुलने पर कांच के द्वार पर टीचिंग ब्लॉक का कागज चस्पा था, जो काफी समय से बंद है। बेसमेंट में करीब 11 कक्ष बने हुए हैं। अधिकतर कक्ष एयर कंडिशनर, पंखे, बिजली के उपकरण से सज्जित हैं, लेकिन ये किसी काम नहीं आ रहे हैं। भूतल एवं ऊपरी मंजिलों के टॉयलेट्स का पानी पाइप से रिस रहा है जिससे बेसमेंट में सब कबाड़ होने लगा है।...

फोटो - http://v.duta.us/qCuPGwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/2ip97wAA

📲 Get Udaipur News on Whatsapp 💬