नारायण ने11 हजार फुट ऊंचे लांबालांबरी में अर्जित की शक्तियां

  |   Kullunews

नारायण ने लांबालांबरी में अर्जित की शक्तियां

सरयोलसर में माता से से किया मिलन, परिक्रमा केे साथ झील में लगाई डुबकी

चार दिन के दौरे के दौरान पहुंचे देवालय

कुल्लू। देवी-देवताओं की वास स्थली देवभूमि कुल्लू में इन दिनों आषाढ़ मेलों के साथ-साथ देवी-देवता तीर्थ स्थानों के दौरे पर निकले हैं। जिला कुल्लू के देवता सत्य नारायण बशावल ने 20 साल बाद 11 हजार फीट ऊंचे लांबालांबरी में जाकर देव शक्तियां अर्जित की हैं।

लाव लश्कर के साथ निकले देवता नारायण की इस धार्मिक यात्रा में सैकड़ों लोगों ने भाग लिया। इलाके की सुख-शांति केे साथ अपने हारियानों की खुशहाली के लिए हुई देवता की धार्मिक यात्रा में कई शक्तियां भी अर्जित की। इस दौरान वापसी में देवता ने सरयोसर में अधिष्ठात्री माता बूढ़ी नागिन से मिलन किया। इस दौरान देवता ने एक किलोमीटर की परिधि में फैली माता की झील के चारों और परिक्रमा भी की। साथ ही देवता खुडीजल व देवता शृंगा ऋषि की शिल्ला के पास भी गए। देवता के कारदार बाल चंद, पुने राम, रोशन लाल, दीपन लाल, लीला प्रसाद, मूल राज, दीवान सिंह, खेम सिंह, धर्म दास, प्रकाश चंद, संदीप, संजय कुमार, ज्ञान चंद, संतोष कुमार, चंद्र किशोर, संगत राम, हीरा लाल, दिनेश कुमार, नरेश कुमार, अशोक, मोहन, बॉबी, संजू, जगदीश कुमार और रमेश कुमार ने कहा कि देवता सत्य नारायण ने दो तीर्थ स्थलों की यात्रा को तीन दिन के भीतर पूरा किया है। देवता अपने देवालय में रविवार को देव परंपरा के अनुसार विराजमान हो गए हैं। कारदार बाल चंद ने कहा कि देवता ने 11 हजार फीट स्थित लांबालांबरी में देव शक्तियां अर्जित की हैं। देवता ने माता बूढ़ी नागिन से मिलन किया है। उन्होंने कहा कि इस दौरान देवता ने ढील की परिक्रमा केे साथ झील में डुबकी भी लगाई है। देवता की यात्रा से इलाके में सुख-शांति होगी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/gQP3wgAA

📲 Get Kullu News on Whatsapp 💬