बाड़मेर में आंधी-तूफान का कहर: कथा का पांडाल गिरा, 14 श्रद्धालुओं की मौत, तीन दर्जन घायल

  |   Rajasthannews

बाड़मेर में रविवार को आंधी तूफान ने कहर बरपा दिया. आंधी तूफान के कारण जिले के जसोल गांव में चल रही रामकथा का लोहे का पांडाल गिर गया. पांडाल गिरने के बाद उसमें करंट फैल गया. हादसे में पांडाल के नीचे दबने और करंट लगने से 14 श्रद्धालुओं की मौत हो गई. तीन दर्जन से ज्यादा श्रद्धालु घायल हो गए हैं. हादसे के बाद वहां अफरा-तफरी फैल गई. पुलिस-प्रशासन मौके पर राहत एवं बचाव कार्य में जुटा हुआ है.

पांडाल में मौजूद थे करीब एक हजार श्रद्धालु

जानकारी के अनुसार हादसा बाड़मेर जिले के जसोल गांव में हुआ. गांव के स्कूल परिसर में रामकथा का आयोजन किया जा रहा था. आयोजन के लिए वहां करीब 200 फीट का लोहे का पांडाल लगाया गया था. पांडाल में करीब एक हजार श्रद्धालु मौजूद बताए जा रहे हैं. इसी दौरान दोपहर बाद मौसम ने पलटा खाया. करीब पौने चार बजे अचानक तेज आंधी-तूफान आया, जिससे पांडाल गिर गया और श्रद्धालु उसमें दब गए. पांडाल में बिजली उपकरण लगे होने के कारण उसमें करंट फैल गया....

फोटो - http://v.duta.us/UT2WlAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Re6JhAAA

📲 Get rajasthannews on Whatsapp 💬