Bharatmala project:सड़क निर्माण के लिए काटे जा रहे पेड़,पर्यावरण को हो रहा है नुकसान

  |   Jaisalmernews

जैसलमेर/नोख. क्षेत्र में भारतमाला परियोजना के तहत(Bharatmala project) निर्माण करवाई जा रही सडक़ों के दौरान पेड़ों की कटाई की जा रही है। जिससे पर्यावरण को नुकसान हो रहा है। गौरतलब है कि बाप से नोख होते हुए जाने वाले सडक़ मार्ग पर भारत माला परियोजना के अंतर्गत सडक़ को चौड़ा कर दोनों तरफ डामरीकरण किया जा रहा है। इस दौरान नोख गांव के आसपास ओरण में लगे सैकड़ों वर्ष पुराने खेजड़ी, बोरड़ी के वृक्ष काटे जा रहे हैं। मान्यताओं के अनुसार स्थानीय लोग ओरण में न तो पेड़ों की कटाई करते हैं, न ही उस लकड़ी का निजी उपयोग करते हैं तथा आंधी तूफान के दौरान कोई पेड़ गिर जाने पर उस लकड़ी को श्मशान में लाकर डाल दिया जाता है। जबकि गत कई दिनों से सडक़ कार्य के दौरान सडक़ सीमा में आने वाले दर्जनों बड़े-बड़े पेड़ धड़ल्ले से काटकर उसकी लकडिय़ों को अन्यत्र ले जाया जा रहा है। सडक़ निर्माण के दौरान काटे जा रहे बड़े-बड़े पेड़ों से पर्यावरण को भी नुकसान हो रहा है। जबकि वन विभाग व प्रशासन की ओर से इन हरे भरे पेड़ों को काटने से रोकने के लिए कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।...

फोटो - http://v.duta.us/jgjvVAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/scabEAAA

📲 Get Jaisalmer News on Whatsapp 💬