👉आरबीआई के मोबाइल ऐप से नेत्रहीन😲 भी कर सकेंगे नकली नोटों 💴की पहचान

दृष्टिबाधित लोग अब जाली नोटों की पहचान आसानी से कर सकेंगे। इसके लिए आरबीआई एक मोबाइल एप्लीकेशन लेकर आ रहा है। आरबीआई ने यह कदम देश में नकदी के अधिक इस्तेमाल को लेकर उठाया है। बता दें कि नेत्रहीन लोगों को नोटों की पहचान में कोई दिक्कत न हो इसके लिए नोटों पर ‘इंटाग्लियो प्रिंटिंग’ आधारित पहचान चिह्न रहते हैं। यह चिह्न 100 रुपये और उससे ऊपर के नोट में हैं। बता दें कि वर्तमान में 10, 20, 50, 100, 200, 500 और 2,000 रुपये के बैंकनोट चलन में हैं।

ऐप लाने के पीछे रिजर्व बैंक ने कहा है कि नेत्रहीन लोगों के लिए नकदी आधारित लेनदेन को सफल बनाने के लिए बैंकनोट की पहचान जरूरी है। केंद्रीय बैंक ने कहा, ‘‘रिजर्व बैंक नेत्रहीनों को बैंक नोट को पहचानने में आने वाली दिक्कतों को लेकर संवेदनशील है। बैंक मोबाइल एप विकसित करने के लिए वेंडर की तलाश कर रहा है।''

यह ऐप महात्मा गांधी श्रृंखला और महात्मा गांधी (नई) श्रृंखला के नोटों की पहचान करने में सक्षम होगा। इसके लिए व्यक्ति को नोट को फोन के कैमरे के सामने रखकर उसकी तस्वीर खींचनी होगी। यदि नोट की तस्वीर सही से ली गई होगी तो एप ओडियो नोटिफिकेशन के जरिए नेत्रहीन व्यक्ति को नोट के मूल्य के बारे में बता देगा। अगर तस्वीर ठीक से नहीं ली गई या फिर नोट को रीड करने में कोई दिक्कत हो रही है तो एप फिर से कोशिश करने की सूचना देगा।

यहां पढ़ें पूरी खबर-http://v.duta.us/6onu3AAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬