आश्रम मोर्चा मेें कटान शुरू, सहमे तटवासी

  |   Maunews

मऊ। लगातार हो रही बारिश से तमसा तथा घाघरा के जलस्तर की रफ्तार बढ़ने लगी है। नदियों के तेवर देख तटवासी सहम गए हैं। स्लाटर हाउस के पार खालसा कानूनगो यान चक की तरफ कटान शुरू हो गया। लोग नाव से सुरक्षित स्थानों की तरफ जा रहे। 24 घंटे में घाघरा के जलस्तर में 65 तथा तमसा के जलस्तर में 1.60 मीटर की वृद्धि दर्ज की गई। उधर, सिंचाई विभाग ने अभी कटान रोकने के उपाय तक नहीं किए। जबकि नौ रेग्युलेटरों को बंद करा दिया है।

24 घंटे में घाघरा के जलस्तर में 65 सेमी की वृद्धि दर्ज की। यह तटवर्ती इलाकों में नदी की उपजाऊ भूमि की ओर बढ़ रही है। रसूलपुर आश्रम मोर्चा में कटान शुरू हो गई। घाघरा के जलस्तर पर नजर डाला जाए तो शनिवार को जलस्तर 68.65 मीटर रहा। जबकि शुक्रवार को 68 मीटर रहा। नदी का खतरा निशान 69.90 मीटर आंका गया है। जलस्तर में तेजी से नई बाजार, नौली, चिऊंटीडांड़, लामी, तारनपुर, कादीपुर, हरधौली, बहादुरपुर, सूरजपुर सहित दर्जनों गांवों में नदी के कहर बरपाने का खतरा बढ़ गया है। जलस्तर बढ़ने से नगर सहित तटवर्ती इलाके के लोगों की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। तमसा के जलस्तर में 1.60 मीटर की वृद्धि दर्ज की गई। नदी 64.30 मीटर पर बह रही थी। जबकि खतरा बिंदु 67.36 मीटर आंका गया है। दुबारी : मधुबन तहसील क्षेत्र के दुबारी गांव स्थित बंधे पर लगे रेगुलेटर से रिसाव होने से लोगों को जलभराव की चिंता सताने लगी है। सिंचाई विभाग के अधिकारियों को अवगत कराया, लेकिन अभी तक रिसाव को बंद नहीं कराया जा सका है।...

फोटो - http://v.duta.us/8pH_WAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/c408_QAA

📲 Get Mau News on Whatsapp 💬