उद्योगपति डॉ. रमेश बाहेती बोले, मुंबई के इस व्यापारी ने बचने के लिए मेरे नाम ट्रांसफर कर दी सुपारी

  |   Indorenews

इंदौर। उद्योगपति डॉ. रमेश बी. बाहेती को वसूली के लिए धमकाने के मामले में नया मोड़ आ गया है। डॉ. बाहेती ने खुलासा किया है कि उन्होंने जिसे अपनी कंपनी बेची थी उसी प्रशांत अग्रवाल ने बदमाशों को उनके पीछे लगाया था, एक तरह से सुपारी मेरे नाम पर ट्रांसफर कर दी। डॉ. रमेश बाहेती ने ही इसका खुलासा किया है। घटना के बाद मुंबई में रहने वाले प्रशांत अग्रवाल ने ही उन्हें फोन कर अपनी हरकत को स्वीकार किया, अब डॉ. बाहेती भी अपने पुराने साथी पर कार्रवाई की पैरवी कर रहे है।

कनाडिया थाने में दर्ज वसूली व धमकी के मामले में पहली बार नामी उद्योगपति डॉ. रमेश बाहेती पहली बार सामने आए है। पत्रिका से चर्चा में डॉ. बाहेती ने बताया,किसी से करोड़ों का लेन देन विवाद उनका नहीं है, मुंबई के व्यापारी प्रशांत अग्रवाल ने गैंगस्टर को उनकी जानकारी देकर पीछे लगा दिया था। डॉ. बाहेती के मुताबिक, उन्होंने राऊ पीथमपुर रोड पर स्थित अपनी कंपनी एसटीआई को प्रशांत अग्रवाल निवासी मुंबई को बेचा था। कंपनी में अमरीकी कंपनी निवेश कर रही थी। बाद में प्रशांत अग्रवाल ने करीब 70 करोड़ अदा कर कंपनी को 2010 में टेक ओवर कर लिया था। अमरीका में पढ़ाई पूरी करने के बाद प्रशांत अग्रवाल ने गारमेंट्स का बिजनेस किया और देश में करीब 6-7 फैक्टरियां है। उन्होंने 70 करोड़ के एवज में उन्होंने करीब 80 करोड़ रुपए प्रशांत को दिलवाएं और अभी भी करीब 100 करोड़ की फैक्टरी मौजूद है। प्रशांत अग्रवाल से अच्छे संबंध थे जिसके कारण उसने मुझे ही अध्यक्ष के नाते कंपनी चलाने के लिए कहा। उसकी तारापुर स्थित कंपनी को भी मैं ही देखता था जिसके एवज में साल में मुझे करीब ढाई करोड़ का भुगतान किया जाता था।...

फोटो - http://v.duta.us/myjlXgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/p__POAAA

📲 Get Indore News on Whatsapp 💬