घंटों लाइन मेंं लगे, तब जाकर मिला मनपसंद का स्कूल

  |   Barannews

बारां. अपने मनपसंदीदा स्कूल पाने के लिए रिसफल परिणाम के तहत अन्य जिलों से आए कक्षा एक से पांचवीं तक के शिक्षकों (teachers) को घंटों लाइन में लगना पड़ा। हालांकि कई शिक्षकों को काउसलिंग (Teacher's Cousilings) में देरी से नम्बर आने पर दूर का स्कूल मिला, जिससे उनमें निराशा दिखाई दी। काउसिंग जिला परिषद सभागार में सुबह 11 से दोपहर 2 बजे तक चली।

जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक सीताराम मीणा ने बताया कि रिसफल परिणाम के तहत जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक कार्यालय को अन्य जिलों से 83 शिक्षक (83 teachers )मिले थे। उक्त शिक्षक कक्षा 1 से 5वीं तक के हैं। हालांकि उक्त शिक्षक ग्रीष्मकालीन अवकाश में ही जिले को मिले थे लेकिन ग्रीष्मकालीन अवकाश व स्टाफिंग पेटर्न के कारण काउसङ्क्षलंग नहीं हो पाई थी। बीकानेर निदेशालय ने अब जाकर काउसलिंग करने के आदेश दिए गए थे। इसके तहत सुबह 10 से 11 बजे तक रजिस्ट्रेशन किया गया। काउसिंग कक्ष में जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक मुख्यालय सीताराम मीणा, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी के सहायक निदेशक रामपाल मीणा, अतिरिक्त मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी छीपाबड़ौद प्रथम प्रेमसिंह मीणा मौजूद थे। मौके पर ही शिक्षकों को बुलाकर ऑनलाइन स्क्रीन पर आवश्यकता वाले स्कूल दिखाए गए। इसके बाद शिक्षकों को उनकी पसंदीदा विद्यालय आवंटित किया गया।...

फोटो - http://v.duta.us/mAoJYgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/6tF9RQAA

📲 Get Baran News on Whatsapp 💬