नहीं चला हेल्थ कार्ड, पैसे देकर करवाने पड़े टेस्ट

  |   Shimlanews

शिमला। हिमकेयर योजना का कार्ड मरीजों के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। कार्ड के न चल पाने के कारण मरीजों को दवाइयों समेत टेस्ट महंगी दरों पर करवाने पड़ रहे है। रविवार को आईजीएमसी में ऐसा मामला आया। शिमला के रहने वाले हरिंद्र के बेटे को पेट में कुछ समस्या थी। इलाज के लिए जब अभिभावक अस्पताल लाए तो डॉक्टरों ने ब्लड, अल्ट्रासाउंड सहित कई टेस्ट लिख दिए। अभिभावक जब कार्ड लेकर काउंटर पर पहुंचे तो यहां बैठे कर्मचारियों ने कार्ड न चलने की बात कही। बच्चे के टेस्ट एसआरएल लैब में पैसे देकर करवाने पड़े।

सभी टेस्ट में एक हजार रुपये से अधिक खर्च हो गए। बेटे के अभिभावक हरिंद्र ने कहा कि अब तक बेटे के इलाज में काफी खर्च हो चुका है। अब हेल्थ कार्ड बनाया है, पर इसके न चलने से परेशानी हो रही है। हिमकेयर योजना के नोडल अफसर देवेंद्र कुमार ने बताया कि अगर इमरजेंसी केस होता है तो अस्पताल में बैठे कर्मचारी फोन कर सूचित करते हैं, ताकि ऐसे मरीज को प्राथमिकता मिल सके। इसके लिए अलग से एक टीम बनाई है। एक जून से 10 जुलाई तक एक लाख 70 हजार लोगों की एप्लीकेशन योजना में शामिल होने को आ चुकी है।...

फोटो - http://v.duta.us/PKkk_wAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/EVlamgAA

📲 Get Shimla News on Whatsapp 💬