सुरक्षित माहौल में अब मुस्कुरा रही बेटियां

  |   Jalorenews

पहले गड़बड़ाया हुआ था लिंगानुपात, पिछले दो वर्षों से लगातार बढ़ रहा

जालोर. जालोर जैसे पिछड़े इलाकों में कुछ वर्षों तक बाल लिंगानुपात काफी हद तक गड़बड़ाया हुआ था, लेकिन पिछले कुछ सालों से मिल रहे सुरक्षित माहौल के कारण बेटियां मुस्कुरा रही है। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को लेकर यहां वृहद स्तर पर कार्य किया जा रहा है। ऐसे में पिछले दो वर्षों में ही यह आंकड़ा 22 तक आगे बढ़ चुका है।

जिले में कुछ चरणों में चलाए गए अनमोल हैं बेटियां अभियान को लेकर काफी जागरूकता आई हैं। अभियान के तहत जिलेभर में 36 हजार बेटियों को संदेशवाहक बनाया गया है। जिले की 274 ग्राम पंचायतों में एक साथ एक ही समय पर इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किए गए तथा लोगों में बेटी बचाने को लेकर संदेश दिया गया। अधिकारी बताते हैं कि वर्तमान में जालोर का बाल लिंगानुपात एक हजार बेटों पर 974 बेटियां है। इससे पहले यह आंकड़ा 960 पर एवं उससे भी पहले 952 पर ही था।...

फोटो - http://v.duta.us/mpcLUAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/cYuieQAA

📲 Get Jalore News on Whatsapp 💬