सैलरी स्कैम : नए और पुराने बीईओ ने खेला ऐसा खेल, सरकार को लग गई लाखों की चपत

  |   Jagdalpurnews

जगदलपुर. तोकापाल बीईओ दफ्तर में दो साल तक सैलरी के नाम पर स्कैम होता रहा और अब जब पत्रिका ने मामले में खुलासा किया है तो पूर्व और वर्तमान बीईओ मामले में खुद को बेकसुर बता रहे हैं। मामले में तत्कालीन बीईओ राजेश उपाध्याय और वर्तमान बीईओ रमाकांत पांडेय ने मामले में शासन को 66 लाख 24 हजार रुपए की चपत लगाई है। ऐसे शिक्षक जो बढ़ी हुई सैलरी की पात्रता नहीं रखते थे उन्हें भी प्रमोशन के आधार पर सैलरी बांटी गई, वो भी एक दो महीने नहीं बल्कि पूरे दो साल तक। तोकापाल बीईओ दफ्तर के सूत्रों की मानें तो राजेश उपाध्याय ने बढ़ा हुआ वेतन देना 2018 में शुरू किया। इससे पहले उन्होंने 201 से 30 का एरियस भी शिक्षकों के खाते में डाल दिया। गौरतलब है कि दो साल पहले जिला पंचायत के सीईओ प्रभात मलिक ने उन 211 शिक्षक पंचायत का डिमोशन कर दिया था जो अंग्रेजी विषय में अर्हता नहीं रखते थे।...

फोटो - http://v.duta.us/f_RArAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/sHfSgAAA

📲 Get Jagdalpurnews on Whatsapp 💬