यहां हरियाली के लिए बूंद-बूंद सहेज रहे हैं जवान

  |   Ajmernews

अजमेर. कानून व्यवस्था में ड्यूटी अंजाम देने वाले हाड़ीरानी महिला बटालियन( Ajmer Hadarani Women's Battalion) के जवानों ने पर्यावरण और जल संरक्षण का भी बीड़ा उठा रखा है। पहाड़ी की तलहटी में पथरीली जमीन पर जवान वाटर हार्वेस्टिंग का अनूठा उदाहरण पेश किया है। वाटर पॉण्ड में जमा बारिश के पानी से 15 हजार से ज्यादा छायादार, फलदार पौधों को सिंचाई की जा सकेगी। जवानों के प्रयास से अब पथरीली जमीन पर हरियाली का रंग छाने लगा है।

ब्यावर-किशनगढ़ राजमार्ग पर नारेली स्थित हाड़ीरानी महिला बटालियन कैम्पस वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का अजमेरवासियों के लिए अनूठा उदाहरण है। बटालियन की डिप्टी कमांडेंट प्रीति चौधरी के नेतृत्व में बटालियन की महिला कांस्टेबल और पुरुष जवान ड्यूटी समय के अतिरिक्त पथरीली जमीन पर हरियाली लाने के प्रयास में जुटे है। जहां पूर्व में बटालियन परिसर में करीब पांच हजार पौधे लगाए जा चुके हैं वहीं बीते एक माह में 11 हजार पौधे लगाकर एक कीर्तिमान स्थापित किया है।...

फोटो - http://v.duta.us/8RdVrgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/BEcUsQAA

📲 Get Ajmer News on Whatsapp 💬