सड़क निर्माण में देरी होने से ग्रामीणों में रोष

  |   Sirmournews

ददाहू (सिरमौर)। धारटीधार क्षेत्र की थाना कसोगा पंचायत के करीब आधा दर्जनों गांवों को जोड़ने वाली जैंथल घाट से डंडोर सड़क का निर्माण कार्य शुरू न होने से ग्रामीणों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है। बरसात के दिनों में ग्रामीण भारी जोखिम उठाकर अधूरी सड़क को पार कर रहे हैं। इससे दुर्घटनाओं को भी बढ़ावा मिल रहा है।

गौरतलब है कि जैंथल घाट से डंडोर तक आठ किमी लंबी सड़क का निर्माण किया जाना है। इसे ददाहू स्थित जलाल पुल से जोड़ा जाएगा लेकिन, अभी तक सड़क का निर्माण कार्य शुरू तक नहीं हो पाया है। लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए ग्राम पंचायत थाना कसोगा ने इस सड़क का निर्माण मनरेगा के तहत करवाया था। बाद में सड़क को पीएमजीएसवाई के तहत लाया गया लेकिन, सड़क की डीपीआर को मंजूरी मिलने के बाद भी सड़क का निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया है। ग्रामीण राजेंद्र कुमार, जगतराम, दिनेश कुमार, अरुण पाल, प्रेम सिंह आदि ने बताया कि सड़क निर्माण को लेकर वे अपनी जमीन पहले ही सरकार के नाम कर चुके हैं लेकिन, ग्रामीणों को अभी भी सड़क सुविधा के लाभ से वंचित रखा जा रहा है। इससे आए दिन सड़क पर हादसों का खतरा बना रहता है। मंगलवार को डंडोर के निकट भूसे से भरा एक ट्रैक्टर पलटकर गहरी खाई में जा गिरा। ट्रैक्टर पर सवार लोगों ने कूद कर अपनी जान बचाई, जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया। ऐसे ही पहले भी कई दोपहिया वाहन दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। ग्रामीण लंबे अरसे से सड़क निर्माण की आस लगाए बैठे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि यदि सड़क का निर्माण शीघ्र शुरू नहीं किया गया तो उनको मजबूरन आंदोलन का रास्ता अपनाने पर विवश होना पड़ेगा। उधर, विभाग के सहायक अभियंता नितिश शर्मा ने बताया कि सड़क निर्माण की डीपीआर को मंजूरी मिल चुकी है। सड़क निर्माण पर करीब साढ़े चार करोड़ रुपये की राशि खर्च की जानी है। केवल टेंडर होने बाकी है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/IjImHAAA

📲 Get Sirmour News on Whatsapp 💬