अत्याचार करना ही नहीं, अत्याचार सहने वाला भी अपराधी

  |   Chambanews

अत्याचार करना ही नहीं, अत्याचार सहने वाला भी अपराधी

ग्राम पंचायत उटीप में आयोजित अपराजिता कार्यक्रम का आयोजन, महिलाओं को किया जागरूक

आईटीआई प्रधानाचार्य ने बताया, शिक्षा के क्षेत्र में कैसे बढ़ें आगे

चंबा। विकास खंड मैहला के तहत ग्राम पंचायत उटीप पंचायत कार्यालय में अपराजिता 100 मिलियन स्माइल्स कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर आईटीआई चंबा के प्रधानाचार्य विपिन शर्मा ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। जबकि कार्यक्रम में पशुपालन विभाग चंबा के चिकित्सक सुरेश ठाकुर ने विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थिति दर्ज करवाई। कार्यक्रम की अध्यक्षता पंचायत प्रधान प्रीतो देवी ने की। कार्यक्रम के दौरान स्थानीय महिलाओं ने बढ़चढ़ कर भागीदारी सुनिश्चित बनाई। कार्यक्रम की शुरूआत में स्थानीय पंचायत प्रधान प्रीतो देवी ने विभागीय अधिकारियों का स्वागत किया और उन्हें सम्मानित किया। कार्यक्रम की शुरूआत पशुपालन विभाग चंबा के चिकित्सक सुरेश ठाकुर ने की। उन्होंने विभागीय योजनाओं की ग्रामीणों को विस्तार से जानकारी दी। इसके साथ ही इन योजनाओं का लाभ लेने के बारे में प्रेरित किया। उन्होंने 200 चिक्स योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि योजना के तहत बजट का प्रावधान हो गया है। योजना के तहत चालीस लाभार्थियों का चयन किया जाता है। इसके साथ ही प्रत्येक लाभार्थी को दो सौ चूजे दिए जाते हैं। उन्होंने कहा कि योजना के तहत तीन दिन का प्रशिक्षण भी मुहैया करवाया जाता है। इसका लाभ ग्रामीण ले सकते है। उन्होंने कहा कि पशुुपालन क्षेत्र में आर्थिकी बढ़ाने के कई साधन है। उन्होंने कहा कि डेयरी फार्मिंग कर भी ग्रामीण आर्थिकी मजबूत कर सकते हैं। उन्होंने शिविर के दौरान पशुओं को लगने वाले विभिन्न रोगों की जानकारी दी। इसके साथ ही पशुओं को इन बीमारियों से बचाव के उपाय भी बताए। उन्होंने कहा कि सरकार पशुपालन पर विशेष बल दे रही है। जिससे ग्रामीण पशुपालन कर आर्थिकी स्थिति को मजबूत बना सके। उन्होंने महिलाओं को उनके अधिकारों की जानकारी भी दी। कार्यक्रम के दौरान आईटीआई प्रधानाचार्य विपिन शर्मा ने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज के समय में अत्याचार करना ही अपराध नहीं है। बल्कि अत्याचार सहना भी अपराध के समान है। उन्होंने कहा कि समाज में अपमान होने की बात से महिलाएं अपने साथ हुए अत्याचारों को खुलकर नहीं कहती है। जिससे अपराध कम होने के बजाय बढ़ता रहता है। उन्होंने कहा कि जब तक अत्याचार सहने वाली महिलाएं चुप्पी नहीं तोड़ेंगी, तब तक अत्याचार पर अंकुश लगना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि आज के समय में महिलाएं पुरुषों से भी आगे हैं। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी महिलाएं दबकर रह रही हैं। उन्होंने महिलाओं से आह्वान किया कि वे आत्मविश्वास से काम लें और अपना जीवनयापन करें। कार्यक्रम के अंत में स्थानीय पंचायत प्रधान प्रीतो देवी और उपप्रधान पुष्पराज ने विभागीय अधिकारियों का आभार जताया। इसके साथ ही आह्वान किया कि भविष्य में भी इस तरह के शिविरों का आयोजन किया जाए। जिससे महिलाओं को अधिकारों और विभागीय योजनाओं की जानकारी मिल सके। इस मौके पर उपप्रधान पुष्पराज, पंचायत सचिव ठाकुर सिंह, वार्ड सदस्य मीना देवी, रेखा देवी, केहर सिंह, पिंकी, रविंद्र कुमार, रुको देवी, पिंकी, अनीता और योगराज मौजूद रहे।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/zVD7wAAA

📲 Get Chamba News on Whatsapp 💬