अधिकारीयों की लापरवाही के कारण पांच दिन तक बाढ़ में फसे रहे लोग

  |   Kotanews

कोटा. स्वायत्त शासन एवं नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल के धकेल के बाद रविवार को जवाहर नगर का नाला साफ़ हुआ। अवरोध हटते जी नाला खली होने में एक घंटा भी नहीं लगा। पांच दिनों से बाढ़ का दंश झेल रहे जवाहर नगर वासियों और कोचिंग छात्रों ने रहत की सांस ली।

जवाहर नगर मैं रोड और अंदरूनी सड़के विगत 4 दिनों से पानी में डूबे हुए थे। श्रीजी मैरिज हॉल के पास नाला अवरुद्ध होने से पानी उफनकर सड़कों और गलियों में भरा हुआ था। निगम, यूआईटी और जिला प्रशासन के अधिकारी भी दौरा कर रहे थे, लेकिन समाधान नहीं हो पा रहा था। जब यह मामला धारीवाल तक पहुंचा तो अधिकारीयों ने जल्द समस्या का निस्तारण करने के निर्देश दिए। इसके बाद रविवार सुबह 10 बजे ही नगर निगम के अधिशासी अभियंता, स्वस्थ्य अधिकारी मशीनों और सफाई कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और अवरुद्ध नाले की सफाई शुरू करवाई। नाला विशेषज्ञ तुम्बा ने नाले में उतारकर अवरोध को चिन्हित किया। दोहपहार 3 बजे तक मैनुअल ही प्रयास जारी रहे। सफलता नहीं मिली तो जेसीबी से नाले की धकां खुदवाना शुरू कराया, शाम 5 बजे जैसे ही अवरोध हटा, नाला बाह निकला और घंटेभर में ही सड़को और गलियों में भरा पानी उतर गया।...

फोटो - http://v.duta.us/5IN8WAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/pK2bugAA

📲 Get Kota News on Whatsapp 💬