आशा वर्कर्स के लिए बनाई जाए कोई ठोस नीति : सुभाष शर्मा

  |   Sirmournews

आशा वर्कर्स के लिए बने ठोस नीति : सुभाष

कहा-पांच साल बाद भी नहीं मिले नियुक्ति पत्र

पांवटा साहिब (सिरमौर)। आशा वर्कर पांवटा इकाई की बैठक लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में हुई। आशा वर्कर के प्रधान राजबाला की अध्यक्षता में हुई बैठक में इंटक जिला अध्यक्ष सुभाष शर्मा विशेष रूप से उपस्थित रहे। इस अवसर पर इंटक जिला अध्यक्ष सुभाष शर्मा ने आशा वर्करों को संबोधित करते हुए सरकार से मांग की कि आशा वर्कर के लिए नीति बनाई जाए। कहा कि आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश की तर्ज पर मासिक वेतन 10000 किया जाए। दिल्ली की सरकार ने भी 9000 मासिक वेतन कर दिया है। आशा वर्कर ने समय पर वेतन न मिलने पर नाराजगी जाहिर की है। सरकार से आग्रह किया है कि सभी आशा वर्कर को समय पर वेतन दिया जाए। इंटक के जिला अध्यक्ष सुभाष शर्मा ने कहा कि प्रतिनिधिमंडल मांगों को लेकर बीएमओ राजपुरा से मिलेगा। आशा वर्कर की पांवटा इकाई की प्रधान राजबाला ने अपनी मांगें जिलाध्यक्ष के समक्ष रखीं। आशा वर्कर की प्रधान ने वर्कर्स का 2000 रुपये भारत सरकार की ओर से इंसेंटिव बढ़ाए जाने पर सरकार का धन्यवाद किया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/GtWwYQAA

📲 Get Sirmour News on Whatsapp 💬